अलग-अलग चुनाव लड़ेंगे अखिलेश और शिवपाल, नहीं होगा गठबंधन

एक तरफ समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कानपुर से विजय यात्रा निकाली तो वही शिवपाल यादव ने मथुरा से सामाजिक परिवर्तन यात्रा के साथ चुनावी शंखनाद किया

अलग-अलग चुनाव लड़ेंगे अखिलेश और शिवपाल, नहीं होगा गठबंधन

लंबे समय से उत्तर प्रदेश की सियासत में दो बड़े नाम अखिलेश यादव और शिवपाल यादव के बीच में खींचातानी चल रही है हालांकि अब साफ हो गया है कि दोनों का गठबंधन साल 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में देखने को नहीं मिलेगा अखिलेश यादव और शिवपाल यादव दोनों अलग-अलग चुनाव लड़ेंगे. ऐसा इसलिए कहा जा रहा है कि दोनों चाचा भतीजे ने अपनी चुनावी यात्रा की शुरुआत की हालांकि दोनों का स्थान अलग था. 

एक तरफ समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कानपुर से विजय यात्रा निकाली तो वही शिवपाल यादव ने मथुरा से सामाजिक परिवर्तन यात्रा के साथ चुनावी शंखनाद किया. प्रसपा के प्रमुख शिवपाल सिंह यादव की ओर से समाजवादी पार्टी के सामने गठबंधन के लिए समझौते को दी गई आखिरी तारीख कल सोमवार को खत्म हो गई है.

यह भी पढ़े : यूपी विधानसभा चुनाव 2022 : विजय यात्रा से अखिलेश यादव ने किया चुनावी शंखनाद

 प्रसपा प्रमुख शिवपाल सिंह यादव ने 28 सितंबर को अपने बेटे आदित्य यादव के सहकारी बैंक के सभापति के निर्वाचन के दौरान कहा था कि वह सपा से समझौते का 11 अक्टूबर तक इंतजार करेंगे। अगर जवाब आ जाता है तो कोई बात नहीं और अगर जवाब नहीं आता है, तो वह अपनी चुनावी तैयारी में जुट जायेंगे।