खाद की कमी को लेकर सरकार पर बरसे अखिलेश, मुलायम सिंह ने लिखी केंद्र को चिट्ठी

अखिलेश यादव ने एक बयान में कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार संवेदनहीनता की हद है, खाद के लिए किसान घंटों नहीं, कई-कई दिन लाइन लगाने को मजबूर हैं,

खाद की कमी को लेकर सरकार पर बरसे अखिलेश, मुलायम सिंह ने लिखी केंद्र को चिट्ठी

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश में हो रही खाद की कमी को लेकर सरकार को घेरा है और कई सवाल खड़े किए. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सपा सुप्रीमो ने योगी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार अपने खिलाफ बढ़ते जनाक्रोश के चलते सत्ता में वापसी की संभावनाएं खत्म होते देख सरकार किसान को पूरी तरह से हाशिए पर रख रही है.

अखिलेश यादव ने एक बयान में कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार संवेदनहीनता की हद है, खाद के लिए किसान घंटों नहीं, कई-कई दिन लाइन लगाने को मजबूर हैं, लेकिन उन्हें खाद नहीं मिल रही है. प्रदेश के तमाम जनपदों में खाद को लेकर हाहाकार मचा हुआ हैं पर सरकार कान में तेल डाले बैठी है,"

यह भी पढ़ें : कश्मीर के खीर भवानी मंदिर में गृहमंत्री अमित शाह ने किए दर्शन

मुलायम सिंह ने लिखी केंद्र को छुट्टी 

इसी के चलते हैं समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र मैनपुरी में खाद की कमी के सिलसिले में केंद्र की मोदी सरकार को पत्र लिखा है. मुलायम सिंह यादव ने केंद्र पूर्व मंत्री मनसुखराम मंडी वा के पिछले 21 अक्टूबर को पत्र में कहा कि उनके संसदीय निर्वाचन क्षेत्र मैनपुरी में डीएपी और एमपी के उप वर्ग की व्यापक कमी होने के कारण आलू और सरसों की खेती प्रभावित हो रही है और इससे किसानों के सामने भयंकर कठिनाई उत्पन्न हो गई है.