भोपाल की बेटी ने रचा इतिहास, मैनेजमेंट की सबसे बड़ी परीक्षा में हासिल किया दूसरा स्थान

दुनिया भर में मैनेजमेंट की होने वाली सबसे बड़ी परीक्षा GMAT में 800 में से 798 अंक पाकर दुनिया में शिवांगी ने दूसरी रैंक हासिल की है जीमेट में इतना अंक पाने वाली शिवांगी देश की पहली परीक्षार्थी हैं

भोपाल की बेटी ने रचा इतिहास, मैनेजमेंट की सबसे बड़ी परीक्षा में हासिल किया दूसरा स्थान

मध्यप्रदेश के भोपाल में रहने वाली शिवांगी गवांदे ने इतिहास रखते हुए न केवल प्रदेश का बल्कि पूरे देश का नाम रोशन कर दिया है बता दें कि शिवांगी ने मैनेजमेंट की सबसे बड़ी परीक्षा में दुनिया की दूसरी रैंक हासिल की है शिवांगी ने देशभर में टॉप किया है वही मेहनत के दम पर शिवांगी ने प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे देश का सर ऊंचा कर दिया है। शिवांगी के मैनेजमेंट की परीक्षा में टॉप करने के बाद दुनिया भर की मशहूर और बड़ी यूनिवर्सिटी शिवांगी को एडमिशन के लिए ऑफर दे रही है। 

GMAT में हासिल किया दूसरा स्थान

दुनिया भर में मैनेजमेंट की होने वाली सबसे बड़ी परीक्षा GMAT में 800 में से 798 अंक पाकर दुनिया में शिवांगी ने दूसरी रैंक हासिल की है जीमेट में इतना अंक पाने वाली शिवांगी देश की पहली परीक्षार्थी हैं और इसके साथ ही उन्होंने इतने अंक पाने का रिकॉर्ड भी बना दिया है. आपको इस बात की जानकारी हो कि जीमेट के अंकों के आधार पर ही दुनिया की टॉप मैनेजमेंट संस्थान छात्रों को अपने यहां एडमिशन देते हैं शिवांगी ने इस परीक्षा में इतनी अंक पा लिया है कि दुनिया की टॉप मैनेजमेंट संस्थान जिनमें कैंब्रिज,ऑक्सफर्ड, जैसी यूनिवर्सिटी शामिल है।

यह भी पढ़े : सीएम शिवराज का ऐलान, प्रदेश में निकलेंगे एक लाख पदों पर भर्तियां

शिवांगी की पिता किसान है और साथ ही खेती से जुड़ी व्यवसाय करते हैं शिवांगी भोपाल के शाहपुर इलाके की गुलमोहर कॉलोनी में रहती है शिवांगी की मां एक स्कूल में गणित के अध्यापक हैं। एक निजी न्यूज़ पोर्टल में प्रकाशित खबर के अनुसार शिवांगी की मां ने ही उन्हें मैनेजमेंट के क्षेत्र में जाने के लिए प्रोत्साहित किया था बता दें कि शिवांगी ने साल 2018 में भोपाल के सेंट जोसेफ स्कूल से 12वीं की परीक्षा पास की और फिलहाल देहरादून की यूनिवर्सिटी ऑफ पेट्रोलियम से ही इसी साल बीबीएस किया है।