सीएम भूपेश बघेल के पिता ने लगाई राष्ट्रपति से गुहार, कहा बैलेट पेपर से होने चाहिए चुनाव

राष्ट्रपति को भेजे पत्र में लिखा है, 'देश के नागरिकों के सभी संवैधानिक अधिकारों का व्यापक स्तर पर हनन हो रहा है और लोकतंत्र के तीनों स्तंभ-विधायिका

सीएम भूपेश बघेल के पिता ने लगाई राष्ट्रपति से गुहार, कहा बैलेट पेपर से होने चाहिए चुनाव

छत्तीसगढ़ के मौजूदा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर देश में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन की जगह पर बैलेट पेपर से चुनाव कराने की अपील की है। उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि अगर ऐसा नहीं होता है तो वह उन्हें इच्छा मृत्यु की अनुमति दें। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सीएम भूपेश बघेल के पिता राष्ट्रीय मतदाता जागृति मंच के अध्यक्ष हैं।

क्या था भेजा गया पत्र ?

राष्ट्रपति को भेजे पत्र में लिखा है, 'देश के नागरिकों के सभी संवैधानिक अधिकारों का व्यापक स्तर पर हनन हो रहा है और लोकतंत्र के तीनों स्तंभ-विधायिका, न्यायपालिका तथा कार्यपालिका ध्वस्त होते जा रहे हैं। मीडिया भी लोकतंत्र के तीनों स्तंभों के इशारे पर कार्य कर रही है, प्रार्थी सहित देश के नागरिकों के अधिकारों के संबंध में कोई सुनने वाला नहीं है।' 

यह भी पढ़े : दिल्ली में भाजपा का महामंथन, उम्मीदवारों के चयन को लेकर हो सकती है चर्चा

बघेल ने लिखा है कि आम नागरिकों के मन में भय व्याप्त है और देश में न्याय पाने के लिए नागरिकों की पीढ़ी दर पीढ़ी गुजर जाती हैं, लेकिन न्याय नसीब नहीं हो पा रहा है। उन्होंने लिखा है कि सरकारी आंकड़ों के अनुसार, 700 से ज्यादा किसानों की मृत्यु या हत्या गलत नीतियों के कारण हुई है। मुख्यमंत्री के पिता ने लिखा है, 'लोकतंत्र के सबसे बड़े अधिकार मतदान के अधिकार को ईवीएम मशीन द्वारा कराया जा रहा है। ईवीएम मशीन को किसी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मान्यताप्राप्त संस्था या सरकार ने शत-प्रतिशत शुद्धता से काम करने का प्रमाणपत्र नहीं दिया है।