डायबिटीस की हैं मरीज? करवाचौथ का व्रत रखने से पहले इन बातों का रखें ध्यान

ताकि व्रत रखने के बाद उनकी सेहत पर कुछ ज्यादा असर ना पड़े। आज हम इस लेख में उन्हीं कुछ जरूरी बातों का जिक्र करने वाले हैं। चलिए जानते हैं कि डायबिटीज के मरीजों को व्रत रखने के लिए किन चीजों की आवश्यकता है।

डायबिटीस की हैं मरीज? करवाचौथ का व्रत रखने से पहले इन बातों का रखें ध्यान

सनातन हिंदू धर्म में करवा चौथ का काफी ज्यादा महत्व माना गया है। करवाचौथ के व्रत को शादीशुदा है महिलाएं रखती है इस दिन सभी महिलाएं पति की लंबी उम्र के लिए उपवास रखती हैं। यह व्रत सूर्योदय के साथ शुरू होता है और चांद देखने के बाद समाप्त कर दिया जाता है इस व्रत में ना ही तो कुछ खाया जाता है और ना ही पिया जाता है ऐसे में जिन महिलाओं को डायबिटीज की समस्या है उन्हें कई तरीकों की समस्या का सामना करना पड़ सकता है ऐसे में व्रत रखने से पहले महिलाओं को कुछ चीजें जाननी काफी ज्यादा आवश्यक होती हैं।

ताकि व्रत रखने के बाद उनकी सेहत पर कुछ ज्यादा असर ना पड़े। आज हम इस लेख में उन्हीं कुछ जरूरी बातों का जिक्र करने वाले हैं। चलिए जानते हैं कि डायबिटीज के मरीजों को व्रत रखने के लिए किन चीजों की आवश्यकता है।

अगर आप डायबिटीज के मरीज हैं तो आप को व्रत रखने से पहले सारगी में ऐसी चीजों का सेवन करना है जिसमें सभी तरह के पोषक तत्व मौजूद हो ताकि इससे पूरे दिन आपको एनर्जी मिलती रहे और आपको थकावट महसूस ना हो।

यह भी पढ़ें : त्योहार के सीजन में घर पर बनाएं स्वादिष्ट जलेबी, जानिए विधि

व्रत खोलने के बाद मिठाई और तले हुए आहार को खाने की बजाय प्रोटीन युक्त आहार खाने से आपको काफी फायदा मिलेगा अपने आहार में सब ज्यादा ही साबुत अनाज दाल के साथ चपाती या दाल चावल खाएं। व्रत खोलने के बाद ट्रांस फैट से भरपूर आहार खाने से बचना चाहिए ताकि डायबिटीज काबू में रहे।