सुरक्षाबलों की गोली से कोई मरे तो सही, आतंकियों की गोली से कोई मरे तो गलत -महबूबा मुफ्ती

अपने बयानों के बीच महबूबा मुफ्ती ने शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की भी बात की उन्होंने आर्यन खान को लेकर एक भड़काऊ बयान दिया जिस पर भी लोग काफी नाराज नजर आ रहे हैं.

सुरक्षाबलों की गोली से कोई मरे तो सही, आतंकियों की गोली से कोई मरे तो गलत -महबूबा मुफ्ती

देश भर में अपने भड़काऊ बयानों को लेकर जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती हमेशा से चर्चा में रही है उनका आयल रवैया और बेतुके बयानों को लोग कई बार सुन चुके हैं. अब उनका एक और बयान सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है जिसकी लोग कड़ी निंदा कर रहे हैं. दर्शन उन्होंने कहा कि हम आतंकवादियों की गोली से मरने वालों के परिजनों से मिलते हैं लेकिन हाल ही में सीआरपीएफ में एक व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी उसके परिवार से मिलने गई लेकिन घर पर ताला लगा था.

महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार से सवाल उठाते हुए कहा कि यह उनका कहना सिस्टम है कोई हमारे मुल्क की गोली से मरे तो ठीक है अगर आतंकी गोली से मरे तो वह गलत. अपने बयानों के बीच महबूबा मुफ्ती ने शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की भी बात की उन्होंने आर्यन खान को लेकर एक भड़काऊ बयान दिया जिस पर भी लोग काफी नाराज नजर आ रहे हैं.

यह भी पढ़े : कोयले संकट की खबर को सरकार ने बताया गलत, कहा देश में पर्याप्त है कोयला

आर्यन खान पर क्या बोली महबूबा ?

दर्शन महबूबा मुफ्ती ने भड़काऊ बयान देते हुए लिखा, अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को इसलिए परेशान किया जा रहा है क्योंकि वह मुसलमान है। 4 किसानों के हत्या के आरोपी केंद्रीय मंत्री के बेटे के मामले में निष्पक्ष जांच के बजाय केंद्र एजेंसी या 23 साल के लड़के के पीछे इस वजह से पड़ी है क्योंकि उसका उपनाम खान है। बीजेपी के कोर वोट बैंक की इच्छाओं को पूरा करने के लिए मुसलमानों को निशाना बनाया जाता है।