अब इन दो वैक्सीन को नहीं खरीदेगा भारत, क्या है कारण ?

कई मीडिया चैनल्स द्वारा प्रकाशित की गई ख़बर के अनुसार बताया जा रहा है कि भारत सरकार ने टिको के उपयोग से किसी भी दुष्प्रभाव पर होने वाली कानूनी सुरक्षा के लिए अमेरिकी कंपनी से अनुरोध को पूरा करने के लिए मना कर दिया है।

अब इन दो वैक्सीन को नहीं खरीदेगा भारत, क्या है कारण ?

समाचार एजेंसी रायटर को भारत सरकार के सूत्रों के हवाले से बड़ी जानकारी प्राप्त हुई है, दरअसल भारत फाइजर और माडर्ना से कोरोना की वैक्सीन, भारत सरकार अब नहीं खरीदेगी। एजेंसी को सरकारी सूत्रों ने बताया कि भारत सरकार ने अधिक किफायती और आसानी से स्टार्ट होने वाले घरेलू टीमों के उत्पादन में उछाल के मद्देनजर यह फैसला लिया है जानकारी सामने आई है कि विश्व स्तर पर लोकप्रिय टीको के निर्माताओं ने महामारी के दौरान निजी कंपनियों को नहीं बेचने का फैसला लिया है ऐसे में दुनिया के सबसे अधिक आबादी वाले देशों में से एक भारत मेेटी का उपलब्ध नहीं होगा। 

कई मीडिया चैनल्स द्वारा प्रकाशित की गई ख़बर के अनुसार बताया जा रहा है कि भारत सरकार ने टिको के उपयोग से किसी भी दुष्प्रभाव पर होने वाली कानूनी सुरक्षा के लिए अमेरिकी कंपनी से अनुरोध को पूरा करने के लिए मना कर दिया है। भारत में किसी भी कंपनी को ऐसी सुरक्षा नहीं मिली है एक सूत्र ने अप्रैल में टीके के लिए कंपनियों से भारत की अपील का जिक्र करते हुए कहा कि इससे पहले देश में टीके की कमी और जरूरत थी तब भारत में कोरोना महामारी की दूसरी लहर कहर बरपा रही थी और देश में वैक्सीन की कमी थी। 

यह भी पढ़े : 27 सितंबर को देश भर में किसानों का 'भारत बंद', जानिए अहम जानकारी

वहीं भारत में फाइजर के प्रवक्ता ने कहा कि चर्चा चल रही है और वह देश में वैक्सीन लाने के लिए प्रतिबद्ध है। कंपनी ने दोहराया कि महामारी के दौर में वह केवल केंद्र सरकार को करुणा की वैक्सीन की आपूर्ति करेगी।