मध्य प्रदेश के सीहोर जिले के 650 आदिवासी बच्चों की पढ़ाई का सचिन तेंदुलकर ने उठाया जिम्मा

तेंदुलकर ने 'एनजीओ परिवार' के साथ साझेदारी की है, जिसने मध्य प्रदेश के सीहोर जिले के दूरदराज के गांवों में सेवा कुटीर बनाए हैं।

मध्य प्रदेश के सीहोर जिले के 650 आदिवासी बच्चों की पढ़ाई का सचिन तेंदुलकर ने उठाया जिम्मा

मध्य प्रदेश पहुंचे सचिन तेंदुलकर ने  650 आदिवासी बच्चों का भाग्य बदलने की शुरुआत कर दी। दरअसल क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने इन बच्चों की पढ़ाई का जिम्मा उठाया है. उन्होंने बच्चों की सहायता के लिए गैर सरकारी संगठन के साथ मिलकर यह कदम उठाया.

 तेंदुलकर ने 'एनजीओ परिवार' के साथ साझेदारी की है, जिसने मध्य प्रदेश के सीहोर जिले के दूरदराज के गांवों में सेवा कुटीर बनाए हैं। इन्हीं में से एक सेवा कुटीर सेवनिया में मंगलवार को सचिन पहुंच गए है। वे यहां बच्चों से मिलेंगे और उनका हाल जानकर उन्हें बेहतर सुविधा मुहैया कराने के लिए भी प्रयास करेंगे। 

यह भी पढ़े : उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा वैक्सीन की दोनों डोज लेने वाले लोग, संख्या तीन करोड़ 90 लाख

बच्चों से मुलाकात करने और उनकी पढ़ाई का जिम्मा उठाने सचिन तेंदुलकर ने आज का दिन इसलिए चुना क्योंकि आज का दिन उनके लिए बेहद ही अहम था याद हो कि आज ही के दिन सचिन तेंदुलकर ने साल 2013 में क्रिकेट से संन्यास ले लिया था।