किसान महापंचायत को सुप्रीम कोर्ट ने लगाई फटकार, कहा.....

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, 'प्रदर्शन कर रहे किसान यातायात में बाधा पहुंचा रहे हैं और ट्रेनों एवं राष्ट्रीय राजमार्गों को अवरुद्ध कर रहे हैं। दिल्ली-एनसीआर में राष्ट्रीय राजमार्गों को अवरुद्ध करके विरोध प्रदर्शन जारी रखा जा रहा है

किसान महापंचायत को सुप्रीम कोर्ट ने लगाई फटकार, कहा.....

किसान महापंचायत द्वारा सुप्रीम कोर्ट में जंतर-मंतर पर सत्याग्रह की अनुमति मांगी गई है बता दें कि शुक्रवार को कोर्ट में दाखिल की गई याचिका पर हुई सुनवाई मैं कोर्ट द्वारा तल्ख टिप्पणी की है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा कहा गया है कि आप पहले ही शहर का गला घोट चुके हैं और आप आप शहर के अंदर आना चाहते हैं। सुप्रीम कोर्ट ने महापंचायत की रेल एवं सड़क मार्ग बाधित करने और ट्रैफिक में बाधा पहुंचाने के मुद्दे पर बड़ी फटकार लगाई है।

 सुप्रीम कोर्ट ने कहा, 'प्रदर्शन कर रहे किसान यातायात में बाधा पहुंचा रहे हैं और ट्रेनों एवं राष्ट्रीय राजमार्गों को अवरुद्ध कर रहे हैं। दिल्ली-एनसीआर में राष्ट्रीय राजमार्गों को अवरुद्ध करके विरोध प्रदर्शन जारी रखा जा रहा है।' इसके साथ ही किसान महापंचायत से सोमवार को हलफनामा दायर करने को कहा गया है कि वे राष्ट्रीय राजमार्गों को अवरुद्ध करने वाले किसानों के विरोध का हिस्सा नहीं हैं।

यह भी पढ़े : नई पार्टी बनाने की तैयारी में लगे पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह

महापंचायत को हलफनामा दायर करने का आदेश

कोर्ट ने किसान महापंचायत से कहा, अगर आप कोर्ट आए हैं तो प्रोटेस्ट का क्या मतलब है। जब किसानों के वकील की तरफ से कहा गया कि हाईवे उन्होंने बंद नहीं किया है, पुलिस ने बंद किया है, तो इस पर कोर्ट ने उनसे हलफनामा दायर करने को कहा कि वे राष्ट्रीय राजमार्गों को अवरुद्ध करने वाले किसानों के विरोध का हिस्सा नहीं हैं।