वाशिंगटन, फ्रांस के विचार एक समान : बिडेन

लंदन : अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से कहा कि दोनों देशों की विचारधारा एक समान है तथा एक साथ दोनों ही नाटो को मजबूत करने के लिए काम कर सकते हैं।

वाशिंगटन, फ्रांस के विचार एक समान : बिडेन

लंदन : अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से कहा कि दोनों देशों की विचारधारा एक समान है तथा एक साथ दोनों ही नाटो को मजबूत करने के लिए काम कर सकते हैं।


बिडेन ने लंदन में चल रहे शिखर सम्मेलन के इतर एक टेलीविज़न बातचीत के दौरान श्री मैक्रों से कहा,“जैसा कि हम अपने देशों में लौट कर कहते हैं, हम एक ही विचारधारा के हैं।”


अमेरिकी राष्ट्रपति ने यह भी स्पष्ट किया कि वह नाटो और यूरोपीय संघ दोनों के समर्थन में पूरी तरह से खड़े हैं।


श्री बिडेन ने कहा,“हम नाटो के सामंजस्य के बारे में बहुत दृढ़ता से महसूस करते हैं और मैं सोचता हूं कि यूरोपीय संघ एक अविश्वसनीय रूप से मजबूत और जीवंत इकाई है जिसका न केवल अपने आर्थिक मुद्दों को संभालने और रीढ़ प्रदान करने के लिए पश्चिमी यूरोप की क्षमता से बहुत कुछ है और नाटो के लिए समर्थन भी व्यक्त करता हूं।”

नाटो जैसे मुद्दों पर बिडेन के पूर्ववर्ती डोनाल्ड ट्रंप के साथ कई बार भिड़ने वाले श्री मैक्रों ने कहा कि उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति का स्वागत किया है जो अमेरिका और यूरोप के बीच संबंधों को मजबूत करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।


मैक्रों ने कहा, “मुझे लगता है कि अमेरिकी राष्ट्रपति का क्लब का हिस्सा होना और सहयोग करने के लिए बहुत इच्छुक होना बहुत अच्छा है, और मुझे लगता है कि आप जो प्रदर्शित करते हैं वह यह है कि नेतृत्व साझेदारी है।”


कार्बिस बे में तीन दिवसीय जी7 शिखर सम्मेलन शुक्रवार को शुरू हुआ। पहले सत्र की शुरुआत करते हुए, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को कोविड-19 महामारी से ‘सबक सीखना’ चाहिए और लचीलापन तथा तैयारियों को बढ़ाना चाहिए।